संदेश

September, 2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

रेवासा पीठाधीश्वर राघवाचार्य जी ने किया हिंदी समाचार पत्र " गठजोड़ " के विशेषांक का लोकार्पण Revasa Peethadheeshvar Rahgvaachary ji and Gathjod News Paper

चित्र
जयपुर में दिनांक २३ सितम्बर से प्रारम्भ हुए एवं दिनांक २६ सितम्बर तक चलने वाले "हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेले" में हिंदी समाचार पत्र "गठजोड़" परिवार की तरफ से भी स्टाल लगाई गई. गठजोड़ द्वारा विभिन्न संगठनों का संयुक्त साथ लेकर चलाए जा रहे विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों को गति प्रदान करने, गठजोड़ के देश, राज्य एवं जनहितों को गति देने सम्बन्धी कार्यों की जानकारी देना इस स्टाल का प्रमुख उद्देश्य था. इस दौरान एक अवसर पर परम पूज्य रेवासा पीठाधीश्वर राघवाचार्य जी महाराज द्वारा गठजोड़ के नवीन विशेष अंक तथा पोस्टर का लोकार्पण भी किया गया. स्टाल पर सचिवालय कर्मचारी संघ के पूर्व अध्यक्ष लोकप्रियता कर्मचारी नेता मेघराज पवार, श्री गोविन्द जी पारीक, प्रसिद्ध ज्योतिर्विद राकेश सोनी, पंडित विशाल दयानंद शास्त्री सहित विभिन्न गण मान्य लोगों के साथ कई सामाजिक गतिविधियों एवं कार्यक्रमों को गति भी प्रदान की गई, जिसके कार्यक्रमों की कुछ झलकियों के साथ गठजोड़ के नवीन विशेष अंक की झलकियाँ -


विश्व की सबसे बड़ी "श्रीदुर्गासप्तशती", कई दृष्टियों से विशिष्ट एवं अनूठे इस धार्मिक ग्रन्थ की प्रति "हिन्दू अध्यात्मिक एवं सेवा मेले" में लगाई गई स्टाल पर ज्योतिर्विद महावीर कुमार सोनी एवं आचार्य घनश्याम शर्मा को भेंट की गई। इस धार्मिक ग्रन्थ का विमोचन जनवरी माह में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा किया गया था।

चित्र
जयपुर में आयोजित हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेले में हिंदी समाचार पत्र "गठजोड़" की ओर से भी स्टाल लगाई गई। मेले के अंतिम दिन इस स्टाल पर एक भव्य कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसके तहत श्री दुर्गा सप्तशती के रूप में प्रकाशित भव्य धार्मिक ग्रन्थ की प्रति यहाँ भेंट की गई। ग्रन्थ के प्रकाशक डॉ. संदीप जोशी ने आचार्य घनश्याम शर्मा एवं ज्योतिर्विद् महावीर कुमार सोनी को इसकी प्रति भेंट की। 30 किलो वजन और 816 पृष्ठ का यह ग्रन्थ तीन भाषाओं में है, इस ग्रन्थ में प्रत्येक श्लोक को दुर्लभ चित्रों एवं व्याख्या से समझाया गया है। ग्रन्थ के भेंटकर्ता राजस्थान संस्कृत विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर डॉ संदीप जोशी ने गठजोड़ को बताया कि कड़ी मेहनत से इसे तैयार करने में 5 साल लगे हैं, संस्कृत, हिंदी एवं अंग्रेजी तीन भाषाओं में इसे तैयार किया गया है, इसमें विभिन्न प्राचीन चित्रकारों, कलाकारों, पुरातत्वविदो, संग्रहालयों, मठो, मंदिरों, राजपरिवारों तथा विदेशी व्यक्तियों और संग्रहालयों में सुरक्षित दुर्लभ एवं प्राचीनतम 575 चित्रों के माध्यम से जीवन्त प्रस्तुतीकरण किया गया है। इस भव्य ग्रन्थ का विमोचन प्रधानमंत…

बारां ः डिजीटल लर्निंग सोल्यूशन रूम का शुभारंभ

चित्र
जयपुर, 5 सितम्बर। बारां जिले में गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा की श्रृंखला में सोमवार को एक और अहम कड़ी जुड़ गई है। यहां स्टेशन रोड स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में उच्च तकनीक से युक्त डिजीटल लर्निंग सोल्यूशन रूम का शुभारंभ किया गया।      राज्य स्तरीय कार्यक्रम के तहत मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने विशाल डिजीटल स्क्रीन पर जिले की छात्राओं सं संवाद किया तथा उनकी शैक्षिक उपलब्धियों और भविष्य के बारे में पूछ कर जानकारी ली। साथ ही परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन पर खुशी जाहिर की। इस दौरान उन्होंने अन्य जिलों में स्थापित किए गए डिजीटल लर्निंग सोल्यूशन रूम में मौजूद छात्राओं से भी बातचीत की।      डिजीटल लर्निंग सोल्यूशन रूम के शुभारंभ के अवसर पर जिला प्रभारी मंत्री श्री बाबूलाल वर्मा, जिला कलक्टर डॉ. एस.पी. सिंह, जिला प्रमुख श्री नंदलाल सुमन, विधायक श्रीरामपाल मेघवाल व श्री ललित कुमार मीणा सहित कई जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद थे। जल स्वावलम्बन रथों को दी रवानगी मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के तहत जिले के प्रभारी मंत्री श्री बाबूलाल वर्मा ने सोमवार को जन चेतना के लिए जिला मुख्यालय से जल स…

हिंदी पाक्षिक समाचार पत्र "गठजोड़" एक ऐसा समाचार पत्र जिसके सभी विशेषांकों का विशिष्ट हस्तियों द्वारा लोकार्पण हुआ है तथा जिसके समाजसेवा सम्बन्धी कार्यों के साथ प्रकाशित विशेष अंक की प्रतियाँ सोशल मीडिया द्वारा लाखों लोगों के बीच पहुँच रही है, के आगामी लोकप्रिय क्षमावाणी विशेषांक हेतु सादर आमंत्रण

चित्र