संदेश

October, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

संत शिरोमणि आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज के जीवन परिचय पर आधारित संग्रह “संकेत” का 108 शहरों में तीन दिवसीय भव्य विमोचन समारोह

चित्र
कलयुग के साक्षात् महावीर, संत शिरोमणि आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज के जीवन परिचय पर आधारित संग्रह “संकेत” का विमोचन 25,26,27 अक्टूबर 2015 को बीना बारहा में विराजमान आचार्य श्री ससंघ के समक्ष एवं देश भर के विभिन्न 108 नगरों में विभिन्न मुनिसंघो के समक्ष एवं विशिष्ट सामाजिक हस्तियों द्वारा दिया जावेगा। इस कार्य के लिए अनेक संगठन एवम् समितियों का सहयोग प्राप्त हो रहा है।
          इस पुस्तक में आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के जीवन के महत्वपूर्ण क्षणों का संकलन सचित्र किया गया है और ऐसे छायाचित्रों का संकलन किया गया है जिन्हें अभी तक श्रद्धालुओं ने नहीं देखा है। इस विशेष संग्रह को संकलित करने के लिए 
🚩मुनिश्री समतासागर जी महाराज 🚩जबलपुर के गौरव मुनिश्री पवित्र सागर जी  🚩मुनिश्री अचलसागर जी महाराज एवं  🚩मुनिश्री विनम्रसागर जी महाराज का 
          विशेष मार्गदर्शन प्राप्त हुआ है। अतः आप सभी से निवेदन है अपने नगर में विराजमान मुनिसंघ के समक्ष इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बने और विमोचन के बाद इस अनमोल कृति को अपने परिवार के लिए सुरक्षित करे।
          आप भी आपके नगर में …

शपथ ग्रहण समारोह

चित्र
मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सोमवार को शासन सचिवालय में राजस्थान सचिवालय कर्मचारी संघ                     की नवगठित कार्यकारिणी को शपथ दिलाते हुए






शाश्वत तीर्थराज श्री सम्मेदशिखरजी की वंदना 6 से 12 जनवरी

चित्र

रोटरी क्लब जयपुर नॉर्थ की तरफ से निशुल्क हेल्थ चेकअप कैंप 21 अक्टूबर को...

चित्र

संत शिरोमणि आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज के जीवन परिचय पर आधारित संग्रह “संकेत” का विमोचन शरद पूर्णिमा के अवसर पर 27 अक्टूबर 2015

चित्र
कलयुग के साक्षात् महावीर, संत शिरोमणि आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज के जीवन परिचय पर आधारित संग्रह “संकेत” का विमोचन शरद पूर्णिमा के अवसर पर 27 अक्टूबर 2015 को बीना बारहा में विराजमान आचार्यश्री के समक्ष एवं देश भर के विभिन्न नगरों में विभिन्न मुनिसंघो के समक्ष एवं विशिष्ट सामाजिक हस्तियों द्वारा किया जावेगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस पुस्तक में आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के जीवन के महत्वपूर्ण क्षणों का संकलन सचित्र किया गया है और ऐसे छायाचित्रों का संकलन किया गया है जिन्हें अभी तक श्रधालुओं ने नहीं देखा है। इस विशेष संग्रह को संकलित करने के लिए मुनिश्री समतासागर जी महाराज, जबलपुर के गौरव मुनिश्री पवित्र सागर जी महाराज, मुनिश्री अचलसागर जी महाराज एवं मुनिश्री विनम्रसागर जी महाराज का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ है।

समाचारों के ऑन लाइन प्रसारण में बड़े नेटवर्क के रूप में उपलब्धि हासिल की,मुनि श्री प्रमाण सागर जी महाराज गठजोड़ को मंगल आशीर्वाद प्रदान करते हुए

चित्र
जयपुर। परमपूज्य मुनि श्री 108 प्रमाण सागर जी महाराज के मंगल सानिध्य में यहाँ "जैन साधु संत" का शुभारम्भ हुआ। ज्योतिर्विद महावीर सोनी को मुनि श्री ने इसके लिए अपना मंगल आशीर्वाद प्रदान किया। इससे पूर्व मुनि श्री को उनके आशीर्वाद उपरांत प्रदेश के शासन सचिवालय में अधिकारी कर्मचारी संगठनो के बीच वन, पर्यावरण एवं खनिज राज्य मंत्री जी के कर कमलों द्वारा "sachivalyareporter.com" लांच होने के बारे में बताते हुए अति शीघ्र एक और वेबसाइट "GathjodIndia.com" लांच किए जाने तथा किस प्रकार की तकनीकियों द्वारा फेस बुक, गूगल, वेबसाइटस, पेज एवं जैन साधु संत, जैन बुलेटिन, मिनी साइट्स आदि के रूप में उन्होंने अपना एक बड़ा नेटवर्क बना लिया है, जिसके माध्यम से उनके द्वारा साधु संतों के प्राप्त प्रवचनों, समाचारों, विज्ञप्तियों आदि का थोड़ी सी कड़ी मेहनत द्वारा अत्यंत मितव्ययी रूप से लाखों लोगों के बीच ऑन लाइन प्रसारण सम्भव किया जा सकता है, के बारे में विस्तार से बताया। मुनि श्री को धार्मिक एवं सामाजिक हित के किए गए विभिन्न प्रयासों के बारे में अवगत कराते हुए लेपटोप पर साक्षात अवलोकन…

आचार्य श्री वर्धमान सागर जी महाराज ससंघ के सानिध्य में श्री 1008 इंद्रध्वज महामण्डल विधान

चित्र

श्री सम्मेद्शिखरजी की वंदना

चित्र

9 राज्यों के 54 शहरों में आयोजित होगा “पुष्कर जन्मोत्सव समारोह”

चित्र
Je.k la?k gh ugha cfYd lEiw.kZ tSu lekt dks vius fofHkUu vonkuksa ls miÑr djus okys lk/kuk ds f’k[kj iq#"k fo’olar mik/;k; iwT; xq#nso Jh iq"dj eqfu th dk 106 oka tUe t;Urh lekjksg ns’k Hkj 9 jkT;ksa ds 54 'kgjksa esa vk;ksftr gksxkA mik/;k; iwT; xq#nso Jh iq"dj eqfu th e- dh deZ LFkyh mn;iqj fLFkr xq#iq"dj ikou /kke] Jh rkjd xq# tSu xzUFkky; esa 17 vDVwcj 2015 dks lkewfgd Jkod & Jkfodkvksa }kjk egkea= uodkj egktki vk;ksftr gksxkA egkjk"Vª dh /keZ uxjh ^f’kMhZ* esa pkrqekZljr Je.k la?kh; lykgdkj fnus’k eqfu o izopudkj ine_f"k vkfn Bk.kk 5 ds ikou lkfUu/; esa 25 vDVwcj dks fo’kky Lrj ij lekjksg vk;ksftr gksxkAblh Øe esa eqEcbZ 'kgj ds /kkjkoh {ks= esa pkrqekZljr mik/;k; Jh jes’k eqfu th e- o miÁorZd MkW- Jh jktsUnz eqfu th e- ds ikou lkfUu/; essa fnukad % 11 vDVwcj 2015 dks lekjksg vk;ksftr gksxkA iq"djok.kh xqzi us tkudkjh nsrs gq, crk;k fd dukZVd jkT; ds xnx 'kgj ds tSu LFkkud esa miizorZd ia-jRu Jh ujs'k eqfu th e- ,oa egklk/oh …

सच्चे गुरु के आचरण को अपने जीवन में उतारें : मुनि श्री प्रमाण सागर

चित्र
जयपुरAekuo TkhOk d¨ viuh Ckqf) Xkq# Pkj.k¨a Eksa YkXkkUkh Pkkfg,A Xkq# ges'kk fOkIkfÙk¸k¨a Ok Ikjs'kkfUk¸k¨a Lks vIkUks f'k"¸k d¨ CkPkkRks gSaA;s mn~Xkkj EkqfUkJh IkzEkk.k LkkXkj Tkh EkgkjkTk Uks EkaXkYkOkkj d¨ HkV~Vkjd Tkh dh UkfLk¸kka Eksa vk¸k¨fTkRk /kEkZLkHkk Eksa O¸kä fd,A mUg¨aUks dgk fd Xkq# fUkj{kj g¨Uks d¢ Ckkn Hkh vIkUkh IkgPkkUk CkUkk YksRks gSaA fTkLk Rkjg LkwjnkLk Ok Ekhjk Ik<s&fYk[¨ Ukgha F¨ YksfdUk mUkd¢ Ik| vkTk Hkh Xkk, TkkRks gSaA LkEk> 'kfä d¨ Xkq# Pkj.kksa Eksa vfIkZRk dj nsUkk Pkkfg, RkHkh gEkkjs vanj J)k fOkdfLkRk g¨XkhA Xkq# d¢ LksOkd CkUk¨aA Xkq# d¢ fUk.kZ¸k d¨ vIkUkk fUk.kZ¸k CkUkkv¨aA Xkq# fUk.kZ¸k d¨ vkns'k EkkUkdj dk¸kZ djUkk Pkkfg,A Xkq# d¢ fUk.kZ¸k Eksa 'kadk Ok CkgLk Ukgha djUkk Pkkfg, AXkq# d¢ fUk.kZ¸k d¨ vIkUkk fUk.kZ¸k CkUkkUkk Pkkfg,A mUg¨aUks dgk fd Xkq# dks LkOk¨ZPPk LFkkUk n¨A mUkd¢ vkns'k d¨ IkRFkj dh Ykdhj EkkUk¨A Xkq# d¢ IkzfRk #fPk vk,Xkh Rk¨ LkaLkkj Lks #fPk gV Tkk,XkhA Xkq# gh gEkkjs TkhOkUk d¨ Ok g…

"ब्रहामास्त्र" हैं वर्धमान सूत्र

चित्र

प.पू. आचार्य १०८ शशांक सागर जी महाराज एवं मुनिराजों का ज्योतिष परामर्श एवं अनुसंधान केंद्र पर हुआ मंगल आगमन, समग्र जैन महासभा के मुखपत्र "Jainbulletin.blogspot.com" का आचार्य श्री के मंगल सानिध्य में समाज श्रेष्ठी श्री महेश चांदवाड ने किया लोकार्पण

चित्र
जयपुर।  प.पू. आचार्य  श्री १०८ शशांक सागर जी महाराज, प. पू. मुनि श्री १०८ वैराग्य सागर जी महाराज एवं प.पू. मुनि श्री १०८ सहज सागर जी महाराज का  ज्योतिर्विद महावीर सोनी के निर्देशन में यहाँ संचालित ज्योतिष परामर्श एवं अनुसंधान केंद्र पर एक अभूतपूर्व कार्यक्रम के तहत मंगल आगमन हुआ। यह मंगल आगमन आचार्य श्री के स्वयं ज्योतिष के प्रकाण्ड विद्वान् होने एवं इसमें विशेष रूचि होने के कारण कुछ समय पूर्व हुए इस केंद्र के शुभारम्भ के बारें में चर्चा के बाद इसके अवलोकन करने एवं समग्र जैन महासभा के मुखपत्र "जैन बुलेटिन" का उनके मंगल सानिध्य में लोकार्पण के उद्देश्य से एक कार्यक्रम तय कर  निश्चित हुआ था। आचार्य श्री एवं मुनि श्री के पाद प्रक्षालन एवं पूजा अर्चना के बाद समग्र जैन महासभा के मुखपत्र "जैन बुलेटिन" का आचार्य श्री के मंगल सानिध्य में उनके आशीर्वाद से  समाज श्रेष्ठी श्री महेश जी चांदवाड ने इसका लोकार्पण किया। आचार्य श्री एवं मुनि श्री ने ज्योतिष परामर्श एवं अनुसंधान केंद्र का भी अवलोकन किया, केंद्र पर काफी समय रूककर ज्योतिष केंद्र एवं इस बुलेटिन द्वारा किस प्रकार सम्पू…

विश्व के अद्भुत तीर्थों में अग्रसर गुणायतन

चित्र

251 तपस्वियों का हुआ सम्मान

चित्र
251 RkIkfLOk¸k¨a dk gqvk LkEEkkUk EkqfUkJh izek.k lkxj d¢ LkkfUUk/¸k Eksa gqvk Ikkj.kk Tk¸kIkqj & LkaRk f'kj¨Ekf.k vkPkk¸kZ Jh 108 fOk|kLkkXkj Tkh EkgkjkTk d¢ IkjEk IkzHkkOkd f'k"¸k Ok Xkq.kk¸kRkUk RkhFkZ Ikz.¨Rkk EkqfUkJh 108 IkzEkk.k LkkXkj Tkh EkgkjkTk d¢ LkkfUUk/¸k Eksa Lk¨EkOkkj d¨ Lk¨Ykg dkj.k] n'kYk{k.k IkOkZ Ok RksYkk djUks OkkYks RkIkfLOk¸k¨a dk LkEEkkUk HkV~Vkjd Tkh dh UkfLk¸kka Eksa fd¸kk Xk¸kkA        lfefr ds eq[; leUo;d jktsUnz ds0xks/kk o v/;{k x.ks'k jk.kk us crk;k fd Lk¨Ykg dkj.k d¢ 32 fnUk dk mIkOkkLk djUks OkkYkh JhEkRkh IknEkk TkSUk Ok JhEkRkh fOkEkYkk TkSUk] fOkUkhRkk TkSUk IkkIkM+hOkkYk dk] Lk¨Ykg fnUk d¢ mIkOkkLk djUks OkkYks JhEkRkh IkzHkk nsOkh IkgkfM+¸kk] jRkUk YkkYk nXkM+k] jkd¢'k IkgkfM+¸kk] nLk fnUk d¢ mIkOkkLk djUks OkkYks JhEkRkh jsUkw dkYkk] dSYkk'k Pkan TkSUk] nhIksUnz TkSUk] nsOksUnz dqEkkj TkSUk] JhEkRkh LkfjRkk TkSUk] vfEkRk dqEkkj TkSUk] YkfYkRk TkSUk] YkfYkRk dqEkkj TkSUk vTkEksjk] JhEkRkh Lkq/kk TkSUk] v'k¨d TkSU…