संदेश

2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

भगवान ऋषभदेव के पुत्र भरत के नाम पर इस देश का नाम भारतवर्ष पड़ा - जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद जी महाराज (ज्योतिर्विद महावीर कुमार सोनी द्वारा किये गए प्रश्न के उत्तर का स्वामीजी द्वारा समाधान।)

चित्र

सोशल मीडिया का सदुपयोग बढ़ाने एवम दुरूपयोग रोकने को लेकर विचार गोष्ठी एवम कार्यशाला का आयोजन

गोष्ठी में सोशल मीडिया का सदुपयोग बढ़ाने एवम दुरूपयोग रोकने संबंधी पोस्टर का लोकार्पण किया समाचार जगत के संस्थापक-संपादक समाज भूषण श्री राजेंद्र के. गोधा ने 
जयपुर। अखिल भारतीय वरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक संघ एवं ऑल इंडिया सोशल मीडिया फोरम के संयुक्त तत्वावधान में जयपुर में दिनांक 1 दिसम्बर 2016 को विचार गोष्ठी एवं कार्यशाला का आयोजन किया गया। जन हितों की अधिकाधिक एवं सहजता से सोशल मीडिया के माध्यम से प्रचार प्रसार की उपयोगिता को लेकर आयोजित इस विचार गोष्ठी को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाचार जगत के संस्थापक संपादक राजेंद्र के गोधा ने सोशल मीडिया का जन हितों की पूर्ति में अधिकाधिक उपयोग बढ़ाने के साथ इस साधन से हो रही कुछ हानियों को रोकने के लिए आयोजित विचार गोष्ठी को एक सार्थक एवं सराहनीय प्रयास बताते हुए आयोजकों को इसके लिए साधुवाद दिया। सोशल मीडिया द्वारा सरकार एवं विभिन्न सामाजिक संगठनों के जन कल्याणकारी कार्यक्रमो का किस सरलता, सहजता एवं मितव्ययी रूप से जन जन तक पहुंचाने में महत्व है तथा इस साधन द्वारा अत्यंत लाभों के साथ कुछ हानियां भी हो रही है, पर बोलते हुए अखिल भार…

नोट बंदी का निर्णय देश के इतिहास में राष्ट्र को उन्नति पर ले जाने के लिए साबित होगा एक सार्थक कदम - ज्योतिर्विद महावीर कुमार सोनी

नोट बंदी का निर्णय देश के इतिहास में राष्ट्र को उन्नति पर ले जाने के लिए साबित होगा एक सार्थक कदम - ज्योतिर्विद महावीर कुमार सोनी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक अभूतपूर्व एवं साहसिक निर्णय लेकर 500 एवं 1000 के नोट बंद किए जाने के बाद पूरे राष्ट्र में सब जगह इसी पर बहस जारी हैं, कुछ इसे बहुत अच्छा एवं कुछ इसको लागू करने की प्रक्रिया को लेकर आलोचना कर रहे हैं। इतने दिन बीत जाने पर भी चाय की रेस्टोरेंट से लेकर बड़े से बड़े मॉल में ये चर्चा है कि इस निर्णय से अभी तो चारों तरफ बहुत सारी जनता कठिनाई झेल रही है, भविष्य में क्या इसके सुखद परिणाम भी सामने आएँगे, इस कदम से भाजपा को क्या लाभ होंगे, उसके सुन्दर भविष्य के लिए ये कदम कैसा साबित होगा, तरह तरह की बातें सोशल मीडिया पर दिन भर चलना आज दिन तक जारी है।
ज्योतिषीय पृष्ठभूमि लिए हुए अखिल भारतीय वरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक संघ के संयोजक एवं ऑल इंडिया सोशल मीडिया फोरम के अध्यक्ष ज्योतिर्विद महावीर कुमार सोनी ने इस कदम को देश के सुन्दर भविष्य के लिए अत्यंत सार्थक कदम बताया है, निर्णय की घोषणा के तुरंत बाद भी इसे सरकार का ऐतिहासिक एवं सराहनीय कदम…

प्रधानमंत्री ने 500 और 1000 रूपये के नोट के सम्बन्ध में लिए फैसले पर लोगों से राय माँगी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा 500 और 1000 रूपये के नोट के सम्बन्ध में लिए फैसले पर लोगों से विचार आमंत्रित किये हैं| नरेन्द्र मोदी ऐप पर उपलब्ध 10 सवालों वाले एक सर्वेक्षण के माध्यम से लोग अपने विचार पहुंचा सकते हैं| ट्विटर के माध्यम से सर्वेक्षण का लिंक साझा करते हुये प्रधानमंत्री ने कहा कि वह इस फैसले पर लोगों से पहली प्रतिक्रिया चाहते हैं| सर्वेक्षण के 10 प्रश्न निम्नलिखित हैं : 1. क्या आपको लगता है कि भारत में काला धन है? a) हाँ b) नहीं 2. क्या आपको लगता है कि भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ़ लड़ाई लड़ने और इस समस्या को दूर करने की ज़रूरत है? a) हाँ b) नहीं 3. आप काले धन की समस्या से निपटने के लिए सरकार द्वारा उठाये गए कदमों के बारे में क्या सोचते हैं? 4. आप भ्रष्टाचार के खिलाफ़ मोदी सरकार द्वारा अब तक किये गए प्रयासों के बारे में क्या सोचते हैं? 1 से 5 के स्केल पर – बेहतरीन, बहुत अच्छा, अच्छा, ठीक, बेकार 5. आप 500 और 1000 के पुराने नोटों को बंद करने के मोदी सरकार के निर्णय के बारे में क्या सोचते हैं? a) सही दिशा में उठाया गया बहुत अच्छा कदम है b) अच…

Filmstar Rekha Rana with the special issue of "Gathjod" on Swach Bharat Abhiyan.

चित्र

"ऑल इंडिया सोशल मीडिया फोरम" का गठन

चित्र
समाज कल्याण को तीव्र गति देने की दिशा में सोशल मीडिया एडमिन्स एवं यूर्जस के कल्याणार्थ सोशल मीडिया शक्तिकरण के उद्देश्य से लेखकों, पत्रकारों, समाज सेवकों, फिल्म निर्माता - निर्देशकों एवं एडवोकेट्स ने मिलकर किया "सोशल मीडिया फोरम" का गठन जयपुर। सोशल मीडिया के असंख्य लाभ हैं किंतु इससे कुछ हानियां भी सामने आई है, बड़ी संख्या में लोग इससे लाभ प्राप्त कर रहे है, किन्तु कुछ लोग इसका दुरुपयोग भी कर रहे है, जो अत्यंत अनुचित है। ऐसे कुछ लोगों की वजह से आपस में एक दूसरे तक अत्यंत सरलता, सहजता एवं मितव्ययता से उपयोगी जानकारियों एवं सूचनाओं को एक दूसरे तक पहुँचाने वाले, विभिन्न जाति, वर्ग के लोगों को आपस में जोड़ने वाले इस महत्वपूर्ण साधन पर रोक, आंशिक रोक, अंकुश तक की बात कई बार सुनने में आती रही है। जबकि इस पर किसी भी प्रकार की रोक के स्थान पर इसके उपयोगकर्ताओं के लिए इसे सही ढंग से जानने या उनके लिए प्रशिक्षण, वर्कशॉप, जागरूकता कार्यक्रमों की आवश्यकता है, जिससे इस साधन का दुरूपयोग करने वालों से स्वयं भी बचा जा सके और दूसरों को भी बचाया जा सके एवं इस सुलभ साधन द्वारा लाभ ही लाभ हों, ह…

⁠⁠⁠फिल्म के निर्माता - निर्देशक कुमार राज एवं अभिनेत्री रेखा राणा ने यहाँ जयपुर में गठजोड़ के सम्पादक महावीर कुमार सोनी को दी फिल्म के बारे में विस्तार से जानकारी

चित्र
सशक्त स्टोरी लिए हुए फिल्म "यहाँ अमीना बिकती है" रिलीज होगी अगले वर्ष ⁠⁠⁠⁠
वीमेन एम्पावरमेंट पर दमदार स्टोरी, श्रेष्ठ निर्देशन एवं सशक्त अभिनय के बल पर 83 इंटरनेशनल अवार्ड हासिल कर चुकी हिंदी फिल्म "तारा" की मुख्य अभिनेत्री रेखा राणा एवं फिल्म के निर्माता - निर्देशक कुमार राज ने यहाँ अपने जयपुर आगमन पर "गठजोड़" को अलग अलग दिन दिए अपने इंटरव्यू में बताया कि उनकी पूर्व में बेहद सफल रही फिल्म "तारा" के बाद उनकी अगली फिल्म सोशल सब्जेक्ट लिए हुए वीमेन एम्पावरमेंट पर ही एक अलग सशक्त स्टोरी पर आधारित है। इस फिल्म का नाम "यहां अमीना बिकती है" है, यह वर्ष 2017 में रिलीज़ होगी, इस फिल्म में भी रेखा राणा ही अभिनेत्री है, कैमरून की तरफ से यह फिल्म ऑस्कर में गई है। निर्देशक राज ने इस अवसर पर "तारा" फिल्म के बारे में भी बताया कि तारा फिल्म 83 इंटरनेशनल अवार्ड्स हासिल कर चुकी है, 133 फिल्म फेस्टिवल में जा चुकी है, ऑस्कर में जा चुकी है तथा बॉम्बे में यह फिल्म 52 सप्ताह कंटिन्यू चली थी। "तारा" से अंतर्राष्ट्…

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने कल शाम करेंसी नोटों की आपूर्ति एवं उपलब्‍धता के बारे में स्‍थिति की समीक्षा की एवं बैंकिंग संवाददाताओं (बीसी), डाकघरों, एटीएम, बैंकों एवं ई-पेमेंट प्रणालियों के नेटवर्कों के द्वारा नकदी बांटने को और सक्रिय बनाने के लिए कुछ निर्णय लिए

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने कल (13 नवंबर, 2016) देर शाम करेंसी नोटों की आपूर्ति एवं उपलब्‍धता की समीक्षा की बैठक की। बैठक आधी रात के बाद तक चलती रही। इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय वित्‍त एवं कंपनी मामले मंत्री श्री अरूण जेटली, केंद्रीय शहरी विकास एवं सूचना प्रसारण मंत्री श्री वेंकैया नायडू, केंद्रीय कोयला एवं बिजली राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री पीयूष गोयल एवं केंद्रीय वित्‍त राज्‍य मंत्री श्री संतोष कुमार गंगवार के अलावा और अन्‍य अधिकारियों ने भाग लिया। बैठक में भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर एवं डिप्‍टी गवर्नर वित्‍त मंत्रालय के सभी सचिव एवं प्रधानमंत्री कार्यालय के वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भी भाग लिया। बैठक में नोटों की आपूर्ति एवं उपलब्‍धता के बारे में ताजा स्‍थिति की समीक्षा की गई एवं बैंकिंग संवाददाताओं (बीसी), डाकघरों, एटीएम, बैंकों एवं ई-पेमेंट प्रणालियों के नेटवर्कों के द्वारा नकदी बांटने को और सक्रिय बनाने के लिए कुछ निर्णय लिए गए। आम जनता की सुविधाओं को ध्‍यान में रखते हुए निम्‍नलिखित निर्णय भी लिए गए।
बैंकिंग संवाददाता (बीसी) नेटवर्क

1…

बैंकों में पुरानी मुद्रा के रूप में जमा राशि पर आयकर विभाग द्वारा लिए गए फैसलों से संबंधित सवालों पर वित्त सचिव डॉ. हसमुख अधिया द्वारा दिए गए कुछ जवाब

सवाल 1: बहुत सारे छोटे व्यापारियों, गृहिणियों, कारीगरों, कामगारों के पास बचत के रूप में कुछ नकद राशि घरों में रखे हो सकते हैं, क्या अगर उसे बैंक में जमा कराने जाने पर आयकर विभाग पैसों को लेकर पूछताछ करेगा। जवाब 1: सवाल में दिए गए वर्ग के लोग जो 1.5 या 2 लाख रुपये जमा कराने के लिए जाते हैं उन्हें चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि ये आयकर की न्यूनतम सीमा के भीतर है। इस तरह की छोटी जमा राशि के लिए आयकर विभाग किसी को भी परेशान नहीं करेगा। सवाल 2: क्या इस दौरान जमा की गई नकद रकम की रिपोर्ट आयकर विभाग लेगा। अगर हां, तो क्या 10 लाख नकदी जमा की सीमा को पार करने पर सूचित करने का वर्तमान नियम आगे भी जारी रहेगी। जवाब 2: हम 10 नवंबर से 30 दिसंबर के बीच जमा कराई जाने वाली 2.5 लाख से ऊपर की हर नकदी रकम का और ऐसे खाते का हिसाब लेंगे। विभाग इस रकम और इसे जमा कराने वाले व्यक्ति द्वारा फाइल की गई आयकर रिटर्न का मिलान कर जांच करेगा। उसके बाद उसपर उचित कार्रवाई की जा सकती है। सवाल 3: मान लीजिए की विभाग को ये पता चलता है कि किसी खाते में 10 लाख से ज्यादा की रकम जमा की गई है और वो रकम जमाकर्ता की घोषित …

राष्ट्र के तेजी से विकास करने की दिशा प्रधानमंत्री जी का एक और साहसिक कदम

लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने राष्ट्र के नाम सन्देश 8 नवम्बर 2016 में जो साहसिक घोषणा करते हुए निर्णय की जानकारी दी, उससे समूचे राष्ट्र को चौंका दिया है, देश के छुपे हुए काले धन को बाहर लाने के लिए उनके असीम प्रयासों में यह एक बड़ा प्रयास कहलाएगा, जिसके तहत इस बड़े कदम से उन्होंने दिनांक 8 नवम्बर 16 को 500 एवं 1000 के नोटों को बंद करने के निर्णय की घोषणा की, देश के इतिहास में यह एक बेहद साहसिक कदम है, इस कदम से ईमानदारी से कमाकर जीवन यापन कर रहे आमजन में यह धारणा पुन: बलवती हुई है कि मोदी जी की कथनी और करनी एक है, जो वो कहते हैं करके रहते हैं, उनके कुशल नेतृत्व में राष्ट्र शीघ्र विकसित राष्ट्र बनकर रहेगा, कैसी भी विरोधी ताकतें इसे रोक नहीं पाएगी, यहाँ यह कहना भी अनुचित नहीं होगा कि कालेधन की जमाखोरी वाले पूंजीपतियों के तो निश्चित ही इससे होश उड़ गए होंगे. मोदी जी को बहुत बहुत साधुवाद, आभार ! क्या है ये कदम और क्या है नीति, जानिए उनकी स्वयं की जुबानी, प्रधानमंत्री जी के राष्ट्र के नाम इस सन्देश से -   मेरे प्यारे देशवासियों,

दिवाली के पावन पर्व की समाप्ति नई आशाएं और नई खुशिय…

अखिल भारतीय वरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक संघ का गठन - श्री निर्मल सौगानी राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं महावीर कुमार सोनी राष्ट्रीय संयोजक बने

चित्र
जयपुर। पत्रकारों एवं लेखकों के हितों के साथ उनकी समस्याओं के लिए संघर्ष करने के लिए विजयदशमी के पावन अवसर पर "अखिल भारतीय वरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक" संघ के नाम से पत्रकारों के लिए एक नए मंच का गठन किया गया। इस मंच के गठन को लेकर पूर्व में कई बार आज की सभा में उपस्थित पत्रकारों एवं लेखकों की आपसी चर्चाओं एवं दूरभाष वार्ताओं के बाद इसे गठन करने के लिए कल विजयदशमी का दिन तय किया गया था। भारत गौरव श्री निर्मल सौगानी के जयपुर में केशवनगर स्थित कार्यालय परिसर में रात्रि 8 बजे इस गठन को अंतिम रूप प्रदान किया गया। इस मंच के उद्देश्यों एवं नाम आदि को लेकर काफी देर आपस में चर्चा के बाद इस संघ का नाम सर्वसम्मति से "अखिल भारतीय वरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक संघ" रखने की घोषणा की गई। मंच के गठन के लिए काफी समय से प्रयासरत वरिष्ठ पत्रकार श्री महावीर कुमार सोनी ने उपस्थित लोगों के समक्ष श्री निर्मल सौगानी को इसका राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव रखा, उपस्थित सभी लोगो ने हाथ उठाकर हर्ष के साथ इसके लिए सहमति प्रदान की, इस प्रकार निर्मल सौगानी सर्व सम्मति से इस संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष च…

हमारे देश के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी ने एक अद्भुत एवं सराहनीय कदम के रूप में "स्वच्छ भारत अभियान"

चित्र
हमारे देश के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी ने एक अद्भुत एवं सराहनीय कदम के रूप में दिनांक 2 अक्टूबर 2014 को "स्वच्छ भारत अभियान" के रूप में राष्ट्र एवं अत्यंत जनहितकारी यह महाअभियान प्रारम्भ किया था. माननीय प्रधानमंत्री जी का यह निर्णय ऐसा था जिसकी जितनी तारीफ़ की जावे, उतनी ही कम है. हिंदी पाक्षिक समाचार पत्र ने इस अभियान के प्रति जागरूकता लाने और ज्यादा से ज्यादा इसको गति मिले, इस उद्देश्य से इस अभियान पर विशेष सामग्री देते हुए उसी समय गठजोड़ का यह विशेष अंक प्रकाशित किया था. इस अंक में जन हितकारी इस अभियान के अलावा अन्य जन हितकारी विभिन्न विषयों पर भी महत्वपूर्ण एवं रोचक सामग्री प्रकाशित की थी. इस अभियान को शुरू हुए आज दो वर्ष पूर्ण होने जा रहे हैं, अभियान के प्रति जागरूकता लाने एवं गठजोड़ के इस दिशा में तत्काल किए गए प्रयासों की जानकारी देने की दृष्टि से आज के दिन यह संग्रहनीय अंक आपकी सेवामें प्रेषित है. gathjodnews@gmail.com
पूर्ण मैगज़ीन को देखने के लिए लिंक पर विजिट करे :- https://www.facebook.com/gathjod/



लोकप्रिय प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी का आज के दिवस राष्ट्र एवं जनहित में उठाया गया एक अत्यंत सराहनीय कदम "स्वच्छ भारत - स्वस्थ भारत"

चित्र
स्वच्छ भारत अभियान के प्रति जागरूकता लाकर इसको अधिकाधिक गति मिले, की दृष्टि से इंटरनेशनल सेंटर फॉर ज्योतिष, वास्तु, स्पिरिचुअल एंड कल्चरल एक्टिविटीज ट्रस्ट, गठजोड़ एवं विभिन्न सगठनों के संयुक्त तत्वावधान में उक्त अभियान पर प्रेरणादायी सामग्री समाविष्ट करते हुए एक पोस्टर, उक्त अभियान शुरू होने के कुछ समय बाद जारी किया गया था, इसके कुछ दिनों पश्चात माननीय राज्यपाल, राजस्थान श्रीमान कल्याण सिंह जी एक कार्यक्रम में, इसका अवलोकन करने के बाद इस पोस्टर के साथ, इस अवसर पर साथ में उक्त ट्रस्ट के अध्यक्ष ज्योतिर्विद महावीर कुमार सोनी एवं गठजोड़ के मानद संपादक हेमंत गोदिका. उक्त अभियान शुरू होकर चलते हुए इसको दो वर्ष पूर्ण होकरआज तीसरा वर्ष शुरू हो गया है, राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी एवं लोकप्रिय प्रधानमंत्री एवं जन नेता स्वर्गीय श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की आज पावन जयंती अवसर पर उनको नमन करते हुए यह सुखद पल आपके साथ शेयर कर रहे है |










रेवासा पीठाधीश्वर राघवाचार्य जी ने किया हिंदी समाचार पत्र " गठजोड़ " के विशेषांक का लोकार्पण Revasa Peethadheeshvar Rahgvaachary ji and Gathjod News Paper

चित्र
जयपुर में दिनांक २३ सितम्बर से प्रारम्भ हुए एवं दिनांक २६ सितम्बर तक चलने वाले "हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेले" में हिंदी समाचार पत्र "गठजोड़" परिवार की तरफ से भी स्टाल लगाई गई. गठजोड़ द्वारा विभिन्न संगठनों का संयुक्त साथ लेकर चलाए जा रहे विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों को गति प्रदान करने, गठजोड़ के देश, राज्य एवं जनहितों को गति देने सम्बन्धी कार्यों की जानकारी देना इस स्टाल का प्रमुख उद्देश्य था. इस दौरान एक अवसर पर परम पूज्य रेवासा पीठाधीश्वर राघवाचार्य जी महाराज द्वारा गठजोड़ के नवीन विशेष अंक तथा पोस्टर का लोकार्पण भी किया गया. स्टाल पर सचिवालय कर्मचारी संघ के पूर्व अध्यक्ष लोकप्रियता कर्मचारी नेता मेघराज पवार, श्री गोविन्द जी पारीक, प्रसिद्ध ज्योतिर्विद राकेश सोनी, पंडित विशाल दयानंद शास्त्री सहित विभिन्न गण मान्य लोगों के साथ कई सामाजिक गतिविधियों एवं कार्यक्रमों को गति भी प्रदान की गई, जिसके कार्यक्रमों की कुछ झलकियों के साथ गठजोड़ के नवीन विशेष अंक की झलकियाँ -


विश्व की सबसे बड़ी "श्रीदुर्गासप्तशती", कई दृष्टियों से विशिष्ट एवं अनूठे इस धार्मिक ग्रन्थ की प्रति "हिन्दू अध्यात्मिक एवं सेवा मेले" में लगाई गई स्टाल पर ज्योतिर्विद महावीर कुमार सोनी एवं आचार्य घनश्याम शर्मा को भेंट की गई। इस धार्मिक ग्रन्थ का विमोचन जनवरी माह में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा किया गया था।

चित्र
जयपुर में आयोजित हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेले में हिंदी समाचार पत्र "गठजोड़" की ओर से भी स्टाल लगाई गई। मेले के अंतिम दिन इस स्टाल पर एक भव्य कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसके तहत श्री दुर्गा सप्तशती के रूप में प्रकाशित भव्य धार्मिक ग्रन्थ की प्रति यहाँ भेंट की गई। ग्रन्थ के प्रकाशक डॉ. संदीप जोशी ने आचार्य घनश्याम शर्मा एवं ज्योतिर्विद् महावीर कुमार सोनी को इसकी प्रति भेंट की। 30 किलो वजन और 816 पृष्ठ का यह ग्रन्थ तीन भाषाओं में है, इस ग्रन्थ में प्रत्येक श्लोक को दुर्लभ चित्रों एवं व्याख्या से समझाया गया है। ग्रन्थ के भेंटकर्ता राजस्थान संस्कृत विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर डॉ संदीप जोशी ने गठजोड़ को बताया कि कड़ी मेहनत से इसे तैयार करने में 5 साल लगे हैं, संस्कृत, हिंदी एवं अंग्रेजी तीन भाषाओं में इसे तैयार किया गया है, इसमें विभिन्न प्राचीन चित्रकारों, कलाकारों, पुरातत्वविदो, संग्रहालयों, मठो, मंदिरों, राजपरिवारों तथा विदेशी व्यक्तियों और संग्रहालयों में सुरक्षित दुर्लभ एवं प्राचीनतम 575 चित्रों के माध्यम से जीवन्त प्रस्तुतीकरण किया गया है। इस भव्य ग्रन्थ का विमोचन प्रधानमंत…

बारां ः डिजीटल लर्निंग सोल्यूशन रूम का शुभारंभ

चित्र
जयपुर, 5 सितम्बर। बारां जिले में गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा की श्रृंखला में सोमवार को एक और अहम कड़ी जुड़ गई है। यहां स्टेशन रोड स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में उच्च तकनीक से युक्त डिजीटल लर्निंग सोल्यूशन रूम का शुभारंभ किया गया।      राज्य स्तरीय कार्यक्रम के तहत मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने विशाल डिजीटल स्क्रीन पर जिले की छात्राओं सं संवाद किया तथा उनकी शैक्षिक उपलब्धियों और भविष्य के बारे में पूछ कर जानकारी ली। साथ ही परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन पर खुशी जाहिर की। इस दौरान उन्होंने अन्य जिलों में स्थापित किए गए डिजीटल लर्निंग सोल्यूशन रूम में मौजूद छात्राओं से भी बातचीत की।      डिजीटल लर्निंग सोल्यूशन रूम के शुभारंभ के अवसर पर जिला प्रभारी मंत्री श्री बाबूलाल वर्मा, जिला कलक्टर डॉ. एस.पी. सिंह, जिला प्रमुख श्री नंदलाल सुमन, विधायक श्रीरामपाल मेघवाल व श्री ललित कुमार मीणा सहित कई जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद थे। जल स्वावलम्बन रथों को दी रवानगी मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के तहत जिले के प्रभारी मंत्री श्री बाबूलाल वर्मा ने सोमवार को जन चेतना के लिए जिला मुख्यालय से जल स…